50 रूपये में साड़ी का विज्ञापन देख उमड़ी महिलाओं की भीड़ लेकिन फिर हुआ कुछ ऐसा की दर्ज हुआ दुकानदार पर केस

देश में कमरतोड़ महंगाई तेजी से बढ़ती ही जा रही है, ऊपर से कोरोना ने लोगों के कामधंधे पर भी बुरा असर डाला है. वहीं त्यौहर के सीजन करीब आ रहा है, ऐसे में लोगों की जेब ढीली होना तय होता है. एक तो आसमान छूती मंहगाई और त्यौहार का सीजन और फिर तंग जेब के बीच 50 रुपये में साड़ी जैसा विज्ञापन देखने को मिले तो किसी का भी मन मचल सकता है.

तमिलनाजु के अलनगुलम में स्थित एक कपड़ों की दुकान ने एक ऐसा ही विज्ञापन जारी किया. दुकानकार ने महिलाओं को आकर्षित करने के लिए ऐलान किया कि पहले 3000 कस्टमर्स को उनकी दुकान में मौजूद कोई भी साड़ी सिर्फ 50 रूपये में दी जाएगी.

50 रूपये में साड़ी

इस ऑफर को देखकर को देखकर हर किसी का साड़ी लेने का मन बन ही सकता है और हुआ भी कुछ ऐसा ही. दी न्यू इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक इस अनोखे प्रलोभन को देखकर अलान्गुलम और इसके आस-पास के गांवों की करीब 5000 महिलाएं साड़ी ख़रीदने के लिए दुकान पहुंच गई.

तालुक ऑफ़िस के पास स्थित यह दुकान पुलिस स्टेशन से सिर्फ 800 मीटर की दूरी पर स्थित है. दुकान पर सुबह से ही महिलाओं की भारी भीड़ जमा हो गई.

सूत्रों के हवाले से खबर है कि द्वीप प्रज्वल्लित कर दुकान का उद्घाटन करने के लिए तेनकाशी के कांग्रेस विधायक पालानी नाडर, राजेन्द्रन एडिशनल सुपरिटेंडेंट ऑफ़ पुलिस (Crime Against Women) जैसे जाने-माने वीआईपी पहुंचे थे.

50 रुपये में साड़ी के विज्ञापन वाला पोस्टर दुकान के उद्घाटन से एक दिन पहले ही तिरुनेलवेली-तेनकाशी हाईवे पर लगा दिया गया था. इसमें यह भी बताया गया था कि पहले 3000 कस्टमर को ही 50 रूपये में साड़ी दी जाएगी.

विज्ञापन की खबर आग की तरह पूरे इलाके में फ़ैल गई और उद्घाटन वाले दिन भारी भीड़ देखने को मिली. भीड़ में महिलाओं की तादात बहुत ज्यादा थी, ख़बरों के अनुसार करीब 5000 महिलाएं सस्ते दामों में साड़ी की खरीदी करने के लिए दुकान पहुंची हुई थी.

दुकान के बाहर सुबह से ही भीड़ देखने को मिलने लगी थी. वहीं सस्ते में साड़ी शॉपिंग करने दुकान आई अधिकतर महिलाओं ने मास्क नहीं पहना हुआ था और इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की जो धज्जियां उड़ाई गई उसकी तो बात ही अलग हैं.

दुकानदार पर ठोका हजारों का जुर्माना

भीड़ नियंत्रित करने के लिए मौके पर पुलिस बल को तैनात किया गया था. वहीं कोरोना गाइडलाइन की सरेआम धज्जियां उड़ते देख स्वास्थ्य अधिकारीयों की टीम मौके पर पहुंची.

हालांकि दुकान पर स्वास्थ्य अधिकारियों ने ताला तो नहीं लगाया, लेकिन दुकान के मालिक पर भारी जुर्माना जरुर ठोक दिया. खबरों के अनुसार दुकानदार पर 10000 का जुर्माना लगाया गया है.

इसके साथ ही पुलिस ने दुकान के मालिक और मैनेजर के खिलाफ केस दर्ज भी किया है. इसके साथ ही आपको बताते कि स्वास्थ्य अधिकारीयों के आने तक 2000 महिलाऐं ऑफर के तहत साड़ी की खरीदारी कर चुकी थी.