पति की इस छोटी-सी गलती से गु’स्साई पत्नी ने क्रिकेट बैट से पी’ट-पी’ट कर किया अधमरा, वायरल हुआ वीडियो

राजस्थान से घरेलू झगड़े का एक सनसनीखेज और हैरान कर देने वाला मामला सामने आया हैं, मीडिया रिपोट्रर्स के अनुसार राज्य के बीकानेर में पति-पत्नी के बीच वि’वाद इस हद तक बढ़ गई कि बीवी ने गु’स्से में आकर पति पर क्रिकेट के बैट से प्रहार करना शुरू कर दिया और उसे अधम’रा कर डाला। वहीं जब मियां-बीवी के बीच हुए इस झ’गड़े की वजह सामने आई तो हर कोई हैरान रह गया। इस मा’र के बाद पति की हालात बहुत बुरी हैं, वहीं दूसरी तरफ पुलिस ने इस मामले को पीड़ित पति और उसके परिजनों के खिलाफ ही एकतरफा मामला दर्ज कर कार्रवाई कर दी।

पति के खाना खाए बिना सोने से गुस्साई पत्नी

जिसके बाद लोगों ने इस कार्रवाई का वि’रोध किया। इस मामले से जुड़ा एक वीडियों भी सामने आया हैं, जो काफी हैरान करने वाला हैं। इस मा’रपीट की वजह बना पति का बगैर खाना खाए सोना। जी हां यही इस झ’गड़े और बीवी के गु’स्से की मुख्य वजह रही।

दरअसल पति का खाना खाए बगैर सो जाना पत्नी को इस कदर नागवार गुजरा कि उसने अपने सोए हुए पति पर क्रिकेट खेलने के बैट से प्र’हार किया और उसे पीटना चालू कर दिया। नाराज पत्नी ने पति को इतना मारा कि उसे सिर्फ सिर पर ही एक दर्जन से ज्यादा टांके आए हैं।

वहीं बेकाबू हो गई पत्नी को आस पड़ोस के लोगों और पति के घरवालों ने छुड़ाया, लेकिन पत्नी का गु’स्सा शांत होने का नाम ही नहीं ले रहा था। एक बार छुड़ाए जाने के बाद पत्नी ने अधम’रे पडे़ पति पर दोबारा से भी ह’मला कर दिया था।

इस मामले को लेकर पीड़ित पति के परिजनों का आरोप है कि जय नारायण व्यास कॉलोनी थाना पुलिस ने महिला के खिलाफ पति अमीन की शिकायत पर कार्रवाई करने के जगह पत्नी द्वारा पति और उसके पडोसियों के खिलाफ दर्ज कराई गई छेड़खानी के मामले में उन्हें गिर’फ्तार करने की ध’मकी दी हैं।

एसी से लगाई इंसाफ की गुहार

पुलिस के इस व्यवहार के बाद पीड़ित पति के परिजनों और मोहल्ले के लोगों ने इंसाफ के लिए बीकानेर के एसपी के पास गुहार लगाई हैं। पति के स्वजनों का कहना हैं कि जब वह सो रहा था, तब उस पर उसकी पत्नी ने पीछे से ह’मला किया, जिस में उसे दर्जन भर टांके आए हैं। हमारे पास वीडियो प्रूफ है, लेकिन इसके बाद भी पुलिस कोई एक्शन नहीं ले रही हैं।

पीड़ित पति के परिजनों ने बताया कि अब तक पुलिस ने इस मामले में हमारी तरफ से दर्ज शिकायत पर कोई एक्शन नहीं लिया, जबकि हमारे ऊपर तुरंत केस दर्ज कर धमकी दी जा रही हैं। इस मामले में चार भाइयों का नाम दर्ज किए है, क्या ये फूटा हुआ सिर और वीडियो झूठा है या एक महिला को कुछ भी करने की इजाजत है?