नर्स से एक चुम्मा माँग लिए अफसर, बोले ट्रांसफर तभी होगा तुम्हारा, जानिए महिला के आरोप कितने सच्चे

भारत में भ्रष्‍ट्राचार की जड़े आज भी फैली हुई है, हमें आए-दिन रिश्‍वतखोरी के मामले सुनने को मिलते रहते है. लेकिन आज हम घूस मांगने का जो मामला आपको बताने जा रहे है, उसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे. अब तक घूस में पैसे मांगने के कई मामले आपने देखे और सुने होंगे लेकिन बिहार से घूसखोरी का अनूठा ही मामला सामने आया है. सूबे में एक अधिकारी ने कुछ अलग ही तरह की घूस मांगी गई है.

जिस पर अब जमकर बवाल मच गया है. मामला बिहार के कटिहार का बाताया जा रहा है. एक ऑडियो सामने आया है जिसमें एक मेडिकल ऑफिसर एक नर्स से फोन पर KISS मांगने की बात करता सुनाई दे रहा है.

घूस में मांगा चुम्‍मा

ऑडियों में नर्स अपने ट्रांसफर की मांग करती सुनाई पड़ रही है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ट्रांसफर के बदले में मेडिकल ऑफिसर ने नर्स से कहा उसे बस एक चुम्मा दे दो.

वहीं मामले पर बवाल होने के बाद मेडिकल ऑफिसर ने सफाई भी दी है, उन्‍होंने कहा कि नर्स को गलतफहमी हो गई. कटिहार जिले के समेली प्रखंड के एक स्वास्थ्य केंद्र से घूसखोरी का यह अनोखा मामला प्रकाश में आया है.

बाताया जा रहा है कि पिछले कई दिनों से मेडिकल अफसर डॉ. विनय कुमार सिंह एक महिला ANM को परेशान कर रहे थे. ANM ने आरोप लगाया है कि वो ट्रांसफर की मांग रही थी.

उन्‍होंने कहा कि इसके बदले में मेडिकल ऑफिसर ने उनसे गलत डिमांड की.  ANM ने इसका ऑडियो रिकॉर्ड कर लिया जाेे अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.  ANM ने विभाग काे ऑडियो सौंपते हुए मेडिकल ऑफिसर पर कार्रवाई करने की मांग उठाई है.

ऑडियों में सुनाई दे रही बातचीत कुछ इस तरह है-

नर्स- रख दीजिए बैठक
MO- आपको कल आना भी है, पर हम जो आदेश देंगे, आपको वैसा ही करना होगा
नर्स- गलत आदेश देंगे तो सर हम गलत काम नहीं करेंंगे. जो सही होगा, राइट है सर, वहीं करेंगे. जो सही है तो हम आपके साथ हैं और हमेशा रहेंगे. हम कभी भी कानून का उल्लघंन नहीं करेंगे.
MO- ठीक है तो कल मीटिंग में आ जाना, सिर्फ चुम्मा दे देना.

मेडिकल ऑफिसर ने दी सफाई

वहीं इस मामले को लेकर डॉ. विनय कुमार सिंह ने कहा कि ANM बेबुनियाद आरोप लगा रही है. उन्होंने कहा कि ANM से बातचीत के बीच मेरी बेटी ने नातिन को लाकर मेरे गोद में बैठा दिया था.

मैं अपनी नातिन को चुप करा रहा था, तभी मैंने उससे कहा कि चुम्मा दे दो बेटा. इसी को लेकर ANM उन पर बेबुनियाद आरोप लगा रही है. जबकि महिला ANM का ट्रांसफर पहले ही कर दिया गया था और वो इसी बात से नाराज थी.