श’राब का भोग लगाते ही चल पड़ा तीन दिन से बंद ट्रांसफार्मर, वायरल हुआ वीडियो

बिहार में लागू शराबबंदी कानून के बीच लगातार शराब से जुडी कई खबरें सामने आ रही है. इसी बीच एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जो शराब की प्रति सरकार की सख्ती के साथ-साथ अंधविश्वास को भी उजागर कर रही है. यह मामला सूबे के छपरा का बताया जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यहां पर बिजली विभाग का एक ट्रांसफार्मर ख़राब हो गया था.

इस ट्रांसफार्मर को जिस तरह से ठीक करने का प्रयास किया गया, वो काफी हैरान करने वाला है. खबरों के अनुसार खराब ट्रांसफार्मर को ठीक करने के लिए मशीनरी का सहारा लिया जा रहा है और ट्रांसफर्मर को शराब का भोग लगाया जा रहा है.

शराब का भोग लगते है चल पड़ा तीन दिन से बंद ट्रांसफार्मर

सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि दावा किया जा रहा है कि तीन दिनों से खराब ट्रांसफार्मर को जैसे ही शराब चढ़ाई गई, उससे बिजली आनी शुरू हो जाती है. बता दें कि शराब चढ़ाने वाला कोई और नहीं बल्कि न्यूज़ 18 के अनुसार बिजली विभाग का ही एक मिस्त्री है.

सोशल मीडिया पर छपरा के सलेमपुर पोखरा के पास बिजली विभाग के इस मिस्त्री की ट्रांसफार्मर पर शराब चढ़ाते हुए तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है. इसी के साथ पूरे सिस्टम पर भी सवाल खड़े किया जा रहे है.

इस मामले का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें बिजली विभाग का एक कर्मचारी ट्रांसफार्मर को अगरबत्ती लगता और पूजा करता नजर आ रहा है. इसके बाद कर्मचारी पूजा करके शराब चढ़ाते हुए दिख रहा है.

स्थानीय लोगों के मुताबिक बीते तीन दिनों से क्षेत्र में लगातार बिजली कट रही थी. जिसके बाद नया ट्रांसफार्मर लगाया गया लेकिन समस्या जौ की तौ बनी रही. इसके बाद अगरबत्ती, फूल, लड्डू भी चढ़ाए गए पर समस्या का समाधान नहीं हो सका.

इसके बाद बिजली विभाग के यह महान मिस्त्री सामने आया और इन्होने टोटके के तौर पर शराब चढ़ाई तो बिजली आ गई. यह अनोखी पूजा नगर थाना के सलेमपुर पोखरा के पास हुई जो देशभर में चर्चा का विषय बन गई है.

सोशल मीडिया पर लोग सूबे में लागू शराबबंदी के बीच एक सरकारी विभाग के कर्मचारी को शराब की बोतल से ट्रांसफार्मर की पूजा करते देख आश्चर्यचकित हैं.

बिजली विभाग ने दी सफाई

वहीं सरकार के मुताबिक सूबे में सख्ती से लागू की गई शराबबंदी के बीच सरकारी कर्मचारियों द्वारा ही खुलेआम शराब का इस्तेमाल सरकार को चुनौती देता नजर आ रहा है.

वहीं इस मामले को लेकर बिजली विभाग के अधिकारीयों ने शराब का इस्तेमाल होने से इनकार किया है. अधिकारी वीडियो की सत्यता पर ही सवाल खड़े करते नजर आए.

विद्युत विभाग के कार्यपालक अभियंता ने कहा कि उन्हें इस मामले की खबर मिली है और बिजली मिस्त्री की पहचान कर उसे ह’टा दिया गया है.

लेकिन उन्होंने इस मामले में शराब के इस्तेमाल को लेकर कहा कि शराब की पुष्टि नहीं हो सकी है. उन्होंने मामले की जानकारी पुलिस को भी दे दी है, पुलिस मामले में आगे जांच कर रही हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *