कोरोना थमा नहीं, बर्ड फ्लू की नई आफ़त आ गई, देश के कई राज्यों में अलर्ट जारी

अभी दुनिया एक महामा’री से बाहर भी नहीं निकली कि दूसरी महामा’री ने दस्तक दे डाली जिसके बाद लोगों में फिर से महामा’री के लिए खौफ पैदा हो गया. एक और जहां दुनिया भर के वैज्ञानिक कोरोना वायरस की वैक्सीन खोजने में लगे हैं वहीं अब भारत में एक और महा’मा’री ने दस्तक दे दी है जो कि देखते ही देखते कई राज्यों तक पहुंच चुकी है।

आपको बता दें कि इन दिनों भारत के कई राज्यों में बर्ड फ्लू ने दस्तक दी है। जिसके बाद यह देखते ही देखते कई राज्यों तक पहुंच चुका है। ऐसे में अब यह चिंता सता रही है कि जहां अभी एक महामा’री से ही दुनिया पूरी तरह बाहर नहीं निकल सकी है वहीं आने वाले इस खतरे से किस तरीके से सामना किया जाएगा।

भारत में बर्ड फ्लू ने दी दस्तक

बता दें कि भारत में राजस्थान, हरियाणा, गुजरात, मध्य प्रदेश और केरल तक बर्ड फ्लू पहुंच चुका है। जिसके बाद राज्यों ने यहां हाई अलर्ट घोषित किया है।  कोरोना महामा’री के बीच में ही देश में अब बर्ड फ्लू का खतरा मंडरा रहा है जिसकी वजह से सैकड़ों पक्षियों की मौ’त हो चुकी है बता दें कि अब तक केरल में 1700 से ज्यादा पक्षियों की मौ’त हो चुकी है।

वहीं राजस्थान के कई जिलों में हजारों पक्षी अपनी जा’न गवां चुके हैं। लेकिन बर्ड फ्लू का यह खतरा सिर्फ इन्हीं राज्यों तक सीमित नहीं है यह देखते ही देखते अन्य राज्यों की तरफ नहीं बढ़ता जा रहा है। बर्ड फ्लू की वजह से मध्यप्रदेश के मंदसौर में 100 तो इंदौर में 142 तथा मालवा में 112, खरगोन जिले में 13 कौओं की मौ’त हो गई है।

केरल में राजकीय आपदा घोषित

आपको बता दें कि इन दिनों पक्षियों में एवियन इंफ्लूएंजा वायरस का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। जिसके बाद सैकड़ों पक्षियों की जा’न जा रही है अकेले केरल राज्य में 1200 से ज्यादा बतखें अपनी जान गवां चुकी हैं। इसके बाद केरल सरकार ने इसे राजकीय आपदा घोषित कर दिया है। इसके अलावा भी कई राज्यों कि सरकारों ने हाई अलर्ट घोषित किया है।

अगर अन्य राज्यों की बात करें तो हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में पौंग झील अभ्यारण में अभी तक 2739 पक्षियों की मौ’त हो चुकी है जिनमें स्थानीय पक्षियों साहित प्रवासी पक्षी भी शामिल है।

इस आपदा को देखते हुए हिमाचल सरकार ने भी मुर्गियों और अंडा बिक्री पर रोक लगा दी है। वहीं हरियाणा के पंचकुला में मात्र 15 दिनों में 2 लाख मुर्गियों की मौ’त हो चुकी है।

देखते ही देखते अब बर्ड फ्लू का खतरा पूरे देश में फैलता जा रहा है जिसके बाद यही चिंता सताने लगी है कि इस महामारी से कैसे मुकाबला किया जाएगा। बता दें कि राज्य की सरकारों ने टोल फ्री नंबर भी घोषित किए हैं जिसमें अगर कोई पक्षी घायल अवस्था में मिलता है तो टोल फ्री नंबर पर कॉल कर उसकी जानकारी दी जा सकती है यह नंबर 24 घंटे सेवा में रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *