योगी के मंत्री का बड़ा ऐलान, वक्‍फ बोर्ड की जमीनों पर चलेगा बुल्‍डोजर, मदरसों को लेकर कही बड़ी बात

उत्तर प्रदेश बुल्‍डोजर लगातार खबरों में बना हुआ है, इस बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अब सूबे में मौजूद वक्‍फ बोर्ड के कई कब्‍जे वाली जमीनों पर बुल्‍डोजर चलाने की तैयारी की जा रही हैं। इसकी जानकारी योगी सरकार के मंत्री द्वारा दी गई है। योगी सरकार के पशुधन, दुग्ध विकास एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री धर्मपाल सिंह ने इसे लेकर एक बयान जारी किया हैं।

उन्‍होंने अपने बयान में कहा कि वक्फ बोर्ड की जमीनों से अवैध कब्जा ह’टाने के लिए सरकार बुल्डोजर चलवाने वाली हैं। उन्‍होंने बताया कि हाल ही में अधिकारियों के साथ हुई में उन्‍होंने बोर्ड की संपत्तियों की जानकारी भी मांगी हैं।

मदरसों को लेकर रखी ये शर्त

इसके साथ ही मंत्री ने मदरसे को लेकर भी बडी टिप्‍पणी की हैं। मंत्री ने कहा कि अब सूबे में वहीं मदरसे संचालित होंगे, जिनमें आ’तंक की शिक्षा न दी जाती हो।

धर्मपाल सिंह ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि वक्फ बोर्ड की कई जमीनों पर माफियाओं ने कब्‍जा कर रखा है, इसे छुड़वाने के लिए सरकार काम करेगी और बुल्डोजर भी चलवाएगी।

वहीं मदरसे को लेकर धर्मपाल ने कहा कि मदरसों में कोई राष्ट्रीय शिक्षा प्रदान करना होगा और राष्ट्रहित की बात की जाएगी। आतं’कवादियों की शिक्षा नहीं होगी।

उन्‍होनेे आगे कहा कि कॉमर्शियल शिक्षा दी जाएगी तो हम उसे लेकर विचार करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि यहां अब मदरसों में तकनीकि शिक्षा भी दी जा सकेगी, अब यहां के छात्रों को देशभक्ति और राष्ट्रवाद की शिक्षा प्रदान की जाएगी।

धर्मपाल सिंह ने आगे कहा कि अब देखिए कैसी विडंबना है हमें गायों की रक्षा भी करना है और अल्पसंख्यक लोगों की भी चिंता करना है जबकि दोनों विपरित विभाग हैं। यानी गायों का भी संरक्षण करना है और अल्पसंख्यकों की भी चिंता करपना है।

गायों के लिए बनाएगें गौशाला

वहीं इस दौरान गायों को लेकर धर्मपाल सिंह ने कहा कि यूपी का किसान और सड़कों पर चलने वाला आम लोग अवारा जानवरों से परेशान है। लेकिन समस्‍या दोनों के सामने है।

उन्‍होंने आगे कहा कि गायों की समस्या है कि वो किसानों के खेत में खाने न जाए तो कहां जाए। वहीं किसान अपनी खेत की रक्षा न करे तो उसके बच्चे क्या खाएंगे? हम दोनों की समस्या का निराकरण करने पर विचार कर रहे हैं।

पशुधन, दुग्ध विकास एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री ने कहा कि गायों के लिए न्यायपंचायत स्तर पर गौशाला बना कर, वहां गायों को खूटे से बांधकर रखेंगे। यहां अच्छी नस्ल की गाय भी पाली जाएगी, जिससे हर गौशाला अपने संसाधन से चल सके।