‘सूर्यवंशी’ में मुस्लिम विलेन पर विवाद, रोहित शेट्टी भड़के..

रोहित शेट्टी की फिल्म सूर्यवंशी ने सिनेमाघरों में बेहतेरीन प्रदर्शन कर रही है. यह फिल्म जबरदस्त तरीके से हि’ट साबित हुई है. अक्षय कुमार और कटरीना कैफ स्टारर फिल्म में रोहित ने रोमांस, मसाला, एक्शन से ह’टकर कुछ नया करने का प्रयास किया. सूर्यवंशी की बॉक्स ऑफिस पर कामयाबी बता रही है कि रोहित अपनी प्रयास में काफी हद तक कामयाब हुए है.

लेकिन इस फिल्म को लेकर कुछ वि’वाद भी उठ रहे है. दरअसल फिल्म में मुस्लिम वि’लेन दिखाए जाने पर बवाल  मचा हुआ है. इसे लेकर फिल्म सूर्यवंशी और डारेक्टर रोहित शेट्टी को जमकर ट्रोल किया जा रहा है.

मुस्लिम विलेन के वि’वाद पर रोहित का जवाब

इसी बीच भी अब रोहित शेट्टी ने ट्रोलर्स को करारा जवाब दिया है. रोहित ने ट्रोलर्स से पूछा है कि उनकी फिल्मों में हिंदू विलेन भी रहे है, उस पर वि’वाद क्यों नहीं किया गया?

एक इंटरव्यू में रोहित शेट्टी ने कहा कि फिल्म का निर्माण करते वक्त किसी जाति या धर्म के अभिनेता को विलेन बनाए जाने को लेकर कोई विचार नहीं हुआ था. Quint संग बातचीत में जब शेट्टी से फिल्म में बेड मुस्लिम-गुड मुस्लिम के नैरेटिव को लेकर पूछा गया.

तब उन्होंने कहा कि अगर मैं आपसे सवाल करूं कि सिंघम में जयकांत शिकरे का रोल प्रकाश राज ने निभाया, वो हिंदू हैं. सिर्फ सिंघम ही नहीं बल्कि सिंघम रिटर्न्स और सिम्बा में भी हिंदू खलनायक थे.

सिंबा में ध्रुवा रानाडे का रोल सोनू सूद ने किया जो एक मराठी हैं. जब इन तीनों फिल्मों में विलेन ही हिंदू थे तब कोई समस्या क्यों नहीं हुई? तब किसी ने एतराज क्यों नहीं जताया?

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Rohit Shetty (@itsrohitshetty)

रोहित ने आगे कहा कि हम कास्ट की बात नहीं कर रहे हैं. कोई आतं’कवा’दी अगर पाकिस्तान से है तो उसकी जाति क्या होगी? कुछ सेग्मेंट्स के लोगों को ही इससे समस्या हो रही है.

हम कास्ट को लेकर नहीं सोचते हैं

लेकिन फिल्म बनाते वक्त हम किसी कि कास्ट के बारे में इस तरह से नहीं सोचते है. इसकी चर्चा ही क्यों की जा रही है? रोहित ने आगे कहा कि एक बुरे और अच्छे इंसान को जाति के साथ जोड़ कर क्यों देखा जा रहा हैं?

जबकि हमने बतौर मेकर्स ऐसा कुछ कभी नहीं सोचा. अगर इसमें कुछ भी गलत होता तो हर कोई इसी पर बात कर रहा होता, लेकिन सिर्फ समस्या सिर्फ कुछ लोगों को हो रही है, यह उनका अपना नजरिया है, जिसमें उन्हें बदलाव करने की जरूरत हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *