उत्तर प्रदेश में ठाकुर ब्रांड का जूता बेच रहा मुस्लिम दुकानदार गिरफ्तार, अब पुलिस की हो रही जमकर आलोचना

धर्म और जाति के विवा’दों की वजह से कई बार लोगों को बड़ी समस्याएं उठानी पड़ जाती हैं। कभी यह समस्याएं हिं’सक झड़प के रूप में देखने को मिलती हैं तो कभी पुलिस और प्रशासन की दखलअंदाजी लोगों के जीवन में शामिल हो जाती हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है जब एक जूते बेचने वाले व्यापारी को जातिसूचक नाम का जूता ब्रांड बेचना भारी पड़ गया।

दरअसल मामला उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से जुड़ा हुआ है जहां पर एक जूते व्यापारी को पुलिस ने इसलिए गिरफ्तार कर लिया क्योंकि वह जाति सूचक नाम का जूता ब्रांड बेच रहा था। बता दें कि उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में गुलावठी गांव में जूते बेचने वाले नासिर के खिलाफ क्षेत्र के दक्षिणपंथी नेता विशाल चौहान ने शिकायत दर्ज करवाई थी।

जिसमें उन्होंने जूते बेचने वाले व्यापारी पर आरोप लगाया कि वह जो जूता बेच रहा है उसके सोल पर उच्च वर्ग की जाति ‘ठाकुर’ का नाम लिखा हुआ है। ऐसे में यह जाति और धर्म के नाम पर भेदभाव को बढ़ावा देने वाला है। दक्षि’णपं’थी नेता विशाल चौहान की शिकायत के बाद पुलिस ने जूता बेचने वाले व्यापारी नासिर को गिरफ्तार कर लिया।

नासिर बोला क्या में इनको खुद बनाता हूँ

 

आपको बता दें कि अब सोशल मीडिया पर इस घटना का एक वीडियो जमकर और वायरल हो रहा है जिसमें दुकानदार और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के बीच तीखी बहस हो रही है। वीडियो में लोग जूता व्यापारी को घेरे हुए दिख रहे हैं ऐसे में नासिर लोगों से कहता है कि क्या मैं इन जूतों को खुद बना रहा हूं इस पर लोग नासिर से कहते हैं कि अगर तुम इन्हें बना नहीं रहे तो इन्हें यहां लेकर क्यों आए हो।

लेकिन अब नासिर को ठाकुर ब्रांड के जूते बेचना भारी पड़ गया। नासिर पर अब धर्म के आधार पर विभिन्न समुदायों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने सहित सार्वजनिक स्थान पर शांति भंग करने जैसे गंभीर आरोप लगे हैं।

बता दें कि दक्षिणपंथी नेता की शिकायत पर जूते व्यापारी की गिरफ्तारी के बाद लोगों ने पुलिस पर सवाल उठाना शुरू कर दिया लोगों ने पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा कि “थोड़ा तो विवेक से काम लेते क्या जूता व्यापारी इन्हें खुद के घर में बना रहा है”। वहीं एक यूजर ने लिखा कि पूरे बाजार में ठाकुर ब्रांड के जूते बेचने वाला क्या केवल नासिक ही था क्या?

लोगों के उठते सवालों के बाद बुलंदशहर पुलिस ने जूते व्यापारी नासिर को छोड़ दिया। इसके बाद बुलंदशहर पुलिस ने ट्वीट करते हुए अपनी सफाई दी पुलिस ने ट्वीट करते हुए लिखा कि इस मामले में विधि व्यवस्था के अनुसार कार्यवाही की गई है।

अगर पुलिस कार्यवाही ना करती तो भी उस पर सवाल उठते है पुलिस ने सिर्फ अपने नियम का पालन किया है। वहीं आपको यह भी बता दें कि जूते व्यापारी को छोड़ने के साथ ही पुलिस ने ठाकुर ब्रांड की कंपनी पर शिकायत दर्ज कर ली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *