प्रतापगढ़: होली पर आयोजित हुए धार्मिक मेले में हुआ रशियन डांस, जमकर उड़ाए गए नोट

छोटे शहरों में होने वाले धार्मिक आयोजनों में अश्लील डांस का चलन काफी बढ़़ गया है। हैरत की बात यह है कि ऐसे कई अयोजन जिसमें अश्लीलता परोसने के मामले सामने आए है, उनमें से कई सरकारी विभागों द्वारा आयोजित किए गए है।

सरकारी विभागों द्वारा आयोजित इन मेलों में हरियाणवी और रशियन डांसर्स को बुलाया जाता है और मंच पर घंटों तक अश्लील डांस चलता रहता है।

धार्मिक मेले में थिरकी रशियन डांसर

वहीं दर्शकों की इस भीड़ में सरकारी अधिकारी और स्थानीय नेता भी मौजूद रहते हैं और मेले में आए महिलाओं और बच्‍चों की मौजूदगी में यह डांस चलते रहते है।

ताजा मामला प्रतापगढ़ जिले के छोटी सादड़ी से सामने आया है। यहां होली के मौके पर एक नौ दिवसीय मेले का आयोजन किया गया था।

इसी दौरान सोमवार को मेले में अश्लील डांस हुआ। हरियाणवी और रशियन डांसर्स ने नगर पालिका के इस मेले में देर रात तक फूहड़ परफॉर्मेंस दी।

इस दौरान हजारों की तादात में स्थानीय लोग मौजूद रहे, जिनमें महिलाऐं, बच्‍चे और कई आला अधिकारी भी शमिल थे। वहीं आस्था और धर्म के नाम पर आयो‍जित हुए इस मेले में जमकर बैले डांस किया गया।

इतना ही नहीं मेले में डांस करती इन रशियन और हरियाणवी लड़कियों पर जमकर नोट भी उड़ाए गए। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार देर रात 2 बजे तक चले कार्यक्रम में नगर पालिका ईओ भंवरलाल सेन समेत कई अधिकारी और जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे।

कार्यक्रम में अधिकारियों ने भी अश्लील डांस का जमकर आनंद उठाया, वहीं मंच पर जाकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं भी नोट उड़ाते दिखे।वहीं इस दौरान हंगामा भी हुआ लेकिन पूरे आयोजन के दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही।

9 दिन चलेगा शिवरात्रि मेले

आपको बता दें कि कई साल से छोटीसादड़ी में शिवरात्रि पर मेले का आयोजन किया जाता रहा है। पहले यह मेला शिवरात्रि के दिन से शुरू होकर 7 दिनों तक चलता था।

लेकिन बाद में इस मेले का आयोजन शिवरात्रि की जगह होली पर होने लगा लेकिन मेले का नाम शिवरात्रि मेले ही है। अब मेले का आयोजन होली से शुरू होकर 7 दिनों तक होता था लेकिन इस बार नगर पालिकाध्यक्ष फातेमा बोहरा ने मेले को 9 दिवसीय करने की घोषणा की है।