Solar Scheme: बिजली बिल के झंझट से मुक्ति दिलाने वाली स्‍कीम, 25 साल तक एक रुपया भी नहीं आएगा बिजली बिल

भारत सरकार ऊर्जा के पारंपरिक स्रोतों से बढ़ते प्रदूषक की चितांओं के बीच इसके वैकल्पिक स्रोतों के इस्‍तेमाल पर खूब जोर दे रही है। सरकार पर्यावरण संरक्षण के साथ ही विदेशी मुद्रा भंडार को बढ़ाने के लिए डीजल-पेट्रोल की खपत कम कर इम्पोर्ट बिल में कमी लाना चाहती हैं। इसी को देखते हुए भारत सरकार ने लक्ष्‍य रखा हैं कि देश में साल 2030 तक गैर-पारंपरिक तरीकों से उत्‍पादित होने वाली बिजली कुल खपत का 40 फीसदी हो। इसी लक्ष्‍य को हासिल करने के लिए सौर ऊर्जा को खूब प्रोत्‍साहन दिया जा रहा हैं।

बिल की होगी छुट्टी, कमाई होगी वो अलग

दरअसल केंद्र सरकार ने इस साल के लास्‍ट तक 100 गीगावाट बिजली उत्पादन सौर ऊर्जा से करने का लक्ष्य रखा है, जिसमें से 40 मेगावाट बिजली छतों पर सोलर पैनल लगा कर उत्‍पादित करने की योजना तैयार की गई हैं। इसीलिए सरकार घर की छतों पर सोलर पैनल स्‍थापित करने पर बड़ी सब्सिडी भी दे रही है।

ये योजना कई लिहाज से लोगों के लिए फायदेमंद है, एक तो यह कि इस स्‍कीम के जरिए सोलर पैनल लगवाने में खर्च कम बैठता हैं, क्योंकि इसका एक हिस्सा सब्सिडी के तौर पर सरकार से मिल जाता हैं। इसके अलावा कई राज्‍यों में तो केंद्र सरकार के साथ-साथ राज्य सरकारें भी अतिरिक्त सब्सिडी मुहैया करती हैं। वहीं इसका दूसरा फायदा यह हैं कि सौर पैनल लगावने के बाद आपको बिजली बिल के झंझट से मुक्ति मिल जाएगी।

आपके घर में रोज इस्तेमाल होने जितनी बिजली का उत्‍पादन आपके घर के छत पर लगे इस सोलर पैनल से आराम से हो जाएगा। इतना ही नहीं इसका एक ओर फायदा ये हैं कि इस स्‍कीम में आपको कमाने का मौका भी मिलता हैं। अगर सोलर पैनल आपकी जरूरत से अधिक बिजली तैयरार करता हैं तो आपसे यह बिजली, विद्युत वितरण कंपनियों खरीद लेगी।

लागत की वसूली होगी ढाई साल में

किसी घर के लिए आम तौर पर 2-4kW का सोलर पैनल काफी होता हैं, इसमें आप 1 एसी, 2-4 पंखे, 6-8 LED लाइटें, एक फ्रिज, 1 पानी की मोटर और टीवी जैसी चीजें आराम से यूज कर सकते हैं। इसे आसानी से समझने के लिए हम एक उदाहरण की मदद लेते हैं।

मान लीजिए आप यूपी से हैं और आपकी छत 1000 वर्ग फीट की है, जिसकी आधी छत यानि 500 वर्ग फीट में सोलर पैनल लगवाना चाहते हैं तो प्लांट की क्षमता 4.6kW रहेगी। इसमें कुल खर्चा 1.88 लाख रुपये का आएगा, हालांकि सब्सिडी के बाद ये 1.26 लाख रुपये रह जाएगा।

अब इस निवेश में आपको बचत कितनी होगी, ये समझते हैं। अपने घर की सब जरूरतें सोलर पैनल से पूरा करने पर आप हर महीने जो बिजली बिल बचाएगें वह होगा करीब 4,232 रुपये। यानि साल भर में आपकी बचत 50,784 रुपये होगी। इस तरह ढाई साल में ही आपकी लागत निकाल आएगी। आपकी टोटल बचत 25 साल में करीब 12.70 लाख रुपये पर पहुंच जाएगी।

सब्सिडी के लिए अप्लाई कैसे करें?

अगर आपका काम कम खपत में चल सकता हैं तो आप छोटा प्लांट लगवा सकते हैं। 2kW का सोलर पैनल 1.20 लाख रुपये के खर्च में लए जाएगा। वहीं सरकार की ओर से 40 फीसदी तक की सब्सिडी 3 kW तक का सोलर रूफटॉप पैनल लगवाने पर मिलती है। ऐसे में आपको 48,000 रुपये की सब्सिडी मिलेगी और आपकी लागत 72 हजार रुपये रह जाएगी। सोलर रूफटॉप पैनल के लिए आप अधिकारिक वेबसाइट https://solarrooftop.gov.in/ पर पहुंच कर अप्लाई कर सकते हैं।