सैफ अली खान की करोड़ों की संपत्ति में बच्चों को नहीं मिलेगी फूटी पाई भी, जानिए आखिर क्या है वजह

स्वर्गीय किक्रेटर मन्सुर अली खान अपने बेटे के पीछे करोड़ों की बेशुमार दौलत छोड़ कर गए हैं। सैफ को शाही खानदान का वारीस होना अपने विरासत में ही मिला हैं। सैफ के पास इतनी दौलत है जिसका अंदाजा उन्हें खुद भी नहीं है क्योंकि पटौदी खानदान के नवाब होने के अलावा भोपाल में भी उनकी करोड़ों की प्रॉपर्टी है। ये प्रॉपर्टी भी उन्हें अपने स्वर्गीय पिता मंसूर अली खान पटौदी से ही विरासत में मिली है।

रिपोर्ट्स के अनुसार, सैफ अली खान के पास हरियाणा के पटौदी पैलेस के अलावा भोपाल की संपत्ति को मिलाकर करीब 5 हजार करोड़ रुपए की संपत्ति है। किंतु, मिडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सैफ अली खान अपनी इस बेशुमार दौलत में से किसी भी संतान को फूटी कौड़ी भी नहीं देनेवाले।

किसी भी बच्चे को नहीं मिलेगी फूटी कौड़ी तक

दरअसल, मामला कुछ ऐसा है कि सैफ अली खान की पटौदी हाउस की संपत्तियों के अलावा सारी प्रॉपर्टी भारत सरकार के विवादास्पद श’त्रु विवाद अधिनियम के तहत सिमांकन की गई हैं। इसलिए कोई भी ऐसी किसी भी संपत्ति का मालिक होने का दावा नहीं कर सकता है।

इस के बाद भी अगर कोई सैफ अली खान की इस प्रॉपर्टी के वारिस होने का दावा करना चाहता है, तो उसे हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ेगा। लेकिन अगर हाई कोर्ट से भी हार हुई तो फिर सुप्रीम कोर्ट और भारत के राष्ट्रपति के पास जाने का ओप्शन रहेगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सैफ अली खान के परदादा हमीदुल्लाह खान, जो ब्रिटिश शासन के तहत नवाब थे, उन्होंने कभी भी अपनी कोई भी संपत्तियों के लिए वसीयतनामा नहीं बनाया था। जिससे परिवार में मुख्य रूप से पाकिस्तान में सैफ की परदादी के वंशजों से,श भी संपत्ति की बात को लेकर विवाद हो सकता है।

अब इन सभी विवादों को देखकर तो यही अंदाजा लगाया जा सकता है कि, सैफ अली खान हरियाणा और भोपाल में अपनी संपत्ति अपने बच्चों के नाम नहीं कर सकते है।

मंसूर अली खान पटौदी परिवार के नौवें नवाब थे। इसके साथ ही वो एक मशहूर क्रिकेट खिलाड़ी भी थे। मंसूर अली खान ने उन के दौर की सुपरहिट अभिनेत्री शर्मिला टैगोर से शादी की थी। अपने पिता के नक्शे कदम पर चलते हुए सैफ अली खान ने भी अभिनेत्री अमृता सिंह से पहली शादी की थी।

दोनों के बीच दस साल का अंतर था क्योंकि अम्रृता सैफ से दस साल बड़ी थी। सैफ और अम्रृता के दो बच्चे सारा अली खान और इब्राहिम हैं। इसके बाद सैफ ने दूसरी शादी भी सुपरहिट अभिनेत्री करीना से की, जिनसे उन्हें दो बेटै तैमूर और जहांगीर हैं।

कुछ दिनों पहले ही सैफ अली खान द कपिल शर्मा शो में पहुंचे थे। इस दौरान शो में उन्होंने मस्ती-मजाक में पटौदी के नवाब होने के स्टेटस के बारे में भी बात की थी।

कपिल ने उन्हें उनकी कमाई के बारे में सवाल पुछते हुए कहा था कि उन्होंने एक्टर के तौर पर ज्यादा कमाई की या अपनी प्रॉपर्टी को किराए पर देकर? इस पर सैफ ने बहुत ही मजाकिया अंदाज में जवाब देते हुए कहा कि पटौदी पैलेस से आने वाला पैसा तो मां शर्मिला टैगोर ही रखती है। मैं तो सिर्फ नाम का ही नवाब हूं।

क्या है श’त्रु संपत्ति अधिनियम 1968

शत्रु संपत्ति अधिनियम 1968 भारतीय संसद द्वारा पारित एक अधिनियम है। इस नियम के अनुसार शत्रु संपत्ति पर भारत सरकार का ही अधिकार होगा। इस अधिनियम के मुताबिक जो लोग बंटवारे या 1965 में और 1971 की ल’ड़ाई के बाद पाकिस्तान चले गए और जिन्होंने वहां की नागरिकता स्वीकार कर थी, उनकी सारी अचल संपत्ति ‘श’त्रु संपत्ति’ घोषित कर दी गई थी।

अब सैफ अली खान के वर्क फ्रंट की बात करें तो उनकी फिल्म ‘भू’त पुलिस’ हाल ही में रिलीज हुई है। इस के अलावा ही रानी मुखर्जी के साथ फिल्म ‘बंटी और बबली 2’ में भी सैफ नजर आएंगे। वहीं उनकी पत्नी करीना कपूर भी मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान के साथ फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ में नजर आने वाली हैं।