एक भारतीय कंपनी ऐसी भी जहां 220 कर्मचारियों को मिलती है 1 करोड़ से ज्‍यादा की सैलरी, कंपनी का नाम जान चौंक जाएंगे आप

जब हम किसी कंपनी या संस्‍थान में जॉब करते हैं तो हमारी इच्छा रहती हैं कि हमारी सैलरी भी बढ़ जाए। ऐसे गिने-चुने कर्मचारी ही होते हैं, जिन्‍हें सैलरी करोड़ों में मिलती हैं। अभी हाल ही में एक कंपनी ने अपनी फिनांशियल रिपोर्ट में हैरान कर देने वाली जानकरी दी है। कंपनी की रिपोर्ट से पता चला हैं कि इस कंपनी में एक करोड़ रूपये से अधिक का वेतन पाने वाले कर्मचारियों की तदात 1 या 2 नहीं बल्कि 220 है।

दरअसल आईटीसी समूह में प्रति वर्ष एक करोड़ रुपये से ज्‍यादा का वेतन पाने वाले कर्मचारियों की संख्या वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान 44 प्रतिशत बढ़ गई। यह जानकारी कंपनी की वार्षिक रिपोर्ट में दी गई।

220 कर्मचारी जो पाते हैं सलाना 1 करोड़ की सैलरी

आईटीसी की नवीनतम वार्षिक रिपोर्ट में बताया गया है कि 2020-21 में प्रति माह 8.5 लाख रुपये यानि प्रति वर्ष एक करोड़ रुपये से ज्‍यादा वेतन पाने वाले आईटीसी कर्मचारियों की कुल तदात 220 थी, जो इससे पहले के वित्त वर्ष में 153 थी।

वार्षिक रिपोर्ट में बताया गया हैं कि उनकी कंपनी में 220 ऐसे कर्मचारी थे, जो पूरे वित्त वर्ष में कार्यरत थे और उन्‍हें इसके लिए कुल मिलाकर 102 लाख रुपये यानी प्रति माह 8.5 लाख रुपये या उससे अधिक पारिश्रमिक का भुगतान किया गया।

कंपनी के अनुसार आईटीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक संजीव पुरी को वित्त वर्ष 2021-22 में सकल पारिश्रमिक 5.35 प्रतिशत बढ़कर 12.59 करोड़ रुपये हुआ हैं।

इसमें 2.64 करोड़ रुपये का समेकित वेतन जबकि 49.63 लाख रुपये का बेनिफिट/ दूसरे बेनिफिट और 7.52 करोड़ रुपये का प्रदर्शन बोनस भी दिया गया।

वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार पुरी का वेतन कंपनी के सभी कर्मचारियों के पारिश्रमिक वेतन के औसत के मुकाबले 224 गुना था। बता दें कि वित्त वर्ष 2020-21 में उनका सकल पारिश्रमिक 11.95 करोड़ रुपये था।

वहीं 31 मार्च, 2022 तक आईटीसी के कर्मचारियों की कुल संख्या 23,829 थी, जो इससे पहले के वित्त वर्ष की तुलना में 8.4 प्रतिशत कम है।

वहीं आईटीसी लिमिटेड के एकीकृत शुद्ध लाभ (इंटीग्रेटेड नेट प्रॉफिट) की बात की जाए तो इस वित्‍त वर्ष में कंपनी का प्रदर्शन अच्‍छा रहा हैं।

कंपनी का वित्त वर्ष 2021-22 की चौथी तिमाही में इंटीग्रेटेड नेट प्रॉफिट 11.60 प्रतिशत बढ़कर 4,259.68 करोड़ रुपये पर पहुंच गया हैं।

वहीं इससे पिछले वित्त वर्ष 2020-21 की जनवरी-मार्च तिमाही के दौरान ITC कंपनी ने 3,816.84 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट कमाया था।