ज्ञानवापी मामला: मस्जिद में मिले जिस आकृति को शिवलिंग बताया जा रहा, उसका वीडियो सामने आ गया

Gyanvapi Masjid Survey: वाराणसी में सोमवार को कोर्ट द्वारा नियुक्त एडवोकेट कमीशन ने ज्ञानवापी मस्ज़िद का सर्वे पूरा किया जा चुका है इस दौरान हिन्दू पक्ष ने मस्जिद में शिवलिंग मिलने का दावा किया है। यह शिवलिंग मस्ज़िद परिसर के अंदर एक कुएँ में मिलने का दावा किया जा रहा है। लेकिन वहीं मुस्लिम पक्ष का दावा है कि हिंदू पक्ष पानी के फव्वारे को शिवलिंग बता रहा है।

दरअसल, यह जानकारी 16 मई 2022 (सोमवार) को सर्वे का काम पूरा होते ही हिंदू पक्ष के लोग ‘हर हर महादेव’ का उद्घोष करते हुए ज्ञानवापी मस्ज़िद से बाहर निकले और दावा करने लगे कि मस्ज़िद में जहां मुसलमान नमाज़ से पहले हाथ मुँह धोते है यानि ‘वजू’ करते हैं, उस तालाब में शिवलिंग मिलने का दावा किया जा रहा है।

हलाकि इसी बीच ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर वजूखाने में शिवलिंग मिलने के दावा किया जा रहा है उसी जगहे का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। वीडियो को लेकर कहा जा रहा है कि इसमें उस कथित शिवलिंग को देखा जा सकता है, जिसके मिलने पर हिंदू पक्ष के वकीलों और समर्थकों में खासा उत्साह है।

आपको बता दें आजतक के पास इस वीडियो की फुटेज है. वहीं सोमवार 16 मई को हिंदू पक्ष के दावे के बाद से ये वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. इसमें गोलाकार शेप में कटे पत्थर के बीच एक आकृति दिख रही है जो की शिवलिंग से मिलती जुलती है।

हलाकि ये शिवलिंग ही है या कुछ और, ये 17 मई को अदालत की कार्रवाई के बाद ही पता चलेगा. फिलहाल आप वीडियो देखिए.


ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे होने के बाद हिंदू पक्ष के वकील सुभाष नंदन चतुर्वेदी ने कहा कि हमने कल भी आपत्ति जताई थी और आज जब पानी निकाला गया तो वहां शिवलिंग नज़र आई. वहीं हिंदू पक्षकार सोहनलाल आर्या ने कहा, “बाबा मिल गए, समझ लीजिए कि पानी की गहराई में जाकर बाबा मिल गए है।

वही दिनभर की गहमागहमी के बीच इस आकृति को लेकर एक और दावा सामने आया. कहा गया कि वजूखाने में बनी जिस चीज को शिवलिंग बताया जा रहा है, वो असल में वजूखाने का फव्वारा है. वीडियो में दिख रहे लोग इस चीज के साथ पूरे वजूखाने की सफाई कर रहे हैं।

वहीं जब तक मुस्लिम पक्ष समझता या संभलता तब तक ये मामला फिर न्यायालय पहुंच गया हिंदू पक्ष ने वाराणसी अदालत में याचिका दाखिल कर मांग की कि जिस तालाब में कथित शिवलिंग मिला है, उसे तुरंत सील कर दिया जाए।